सितम्बर 17, 2017

सबसे पहले, पिछले हफ्ते के पूर्वानुमान की समीक्षा:

  • EUR/USD । याद कीजिए कि H4 में 40% विशेषज्ञों व ग्राफिकल विश्लेषण ने यह अनुमान लगाया था कि यह जोड़ा 1.1885-1.2070 की रेंज में पार्श्विक ट्रेंड में गुजरेगा। इसी के साथ ही, D1 में कई ऑसिलेटर्स ने यह सिग्नल दिया कि इन्हें बहुत ज्यादा खरीदा गया था, जिस वजह से इस सप्ताह के आरंभ में संभावित गिरावट के संकेत दिए गए थे। और हुआ भी यही। बुधवार 13 सितंबर की शाम तक, यह निचली सीमा पर पहुंच गया; गुरुवार को, इसने इससे गुजरने की कोशिश की। हालांकि, बियर का बल पहले ही खत्म हो गया था, और केवल एक घंटे में यह जोड़ा नियम सीमाओं पर वापस आया, और इस हफ्ते को 1.1960 के पास खत्म किया: सेन्ट्रल लाइन का स्तर साइड लाइन था;
  • 30% विशेषज्ञों, 100% ट्रेंड संकेतकों, D1 पर ग्राफिकल विश्लेषण और 80% ऑसिलेटर्स ने पिछले हफ्ते GBP/USD की वृद्धि का पक्ष लिया था। 1.3440 को बुल्स का लक्ष्य दिया गया था। हालांकि, बैंक ऑफ इंग्लैंड के त्रैमासिक रिपोर्ट के प्रकाशन व बैंक ऑफ इंग्लैंड के एमपीसी की अगली मीडिया में मूल दर को बढ़ाने के पक्ष में मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी के सदस्य गर्टजन लीगे के भाषण के बाद, गुरुवार, 14 सितंबर को, पौंड को अतिरिक्त वृद्धि मिली। 450 अंकों तक बढ़ने के बाद, यह 1.3600 के स्तर पर पहुंच गया;
  • USD/JPY। भले ही ब्रिटिश पौंड ने डॉलर की तुलना में काफी प्रभावी वृद्धि दर्ज की, लेकिन जापानी येन ने गिरावट प्रदर्शित की जो उतनी ही प्रभावी थी। जापानी अर्थव्यवस्था में उभर रहे सकारात्मक ट्रेंड ने इसके स्टॉक बाजार की वृद्धि में सहयोग दिया है, लेकिन साथ—साथ येन पर दबाव भी बनाया है। यूएस फेडरल रिजर्व द्वारा QE (क्वांटिटिव ईजिंग) की मात्रा में कमी और विश्वसनीय पर बिना फायदे वाली आस्तियों से कम विश्वसनीय व ज्यादा लाभप्रद आस्तियों में निवेश के प्रवाह को स्थानांतरित करना भी जापानी मुद्रा के विरोध में गया, जिस वजह से इसने इस हफ्ते डॉलर के विरुद्ध 350 से ज्यादा अंक गवाएं;
  • केवल 10% विशेषज्ञों, 20% ऑसिलेटर्स व D1 पर ग्राफिकल विश्लेषण ने बुल्स का पक्ष लिया था, यह गणना करके कि USD/CHF अपने निचले स्तर पर पहुंच गया था और अब 0.9620 की ओर बढ़ेगा। यह जोड़ा निश्चित तौर पर तुरंत ऊपर की ओर गया और उम्मीदों को पार करते हुए 0.9700 की ऊंचाई पर पहुंचा। इसके बाद, यह 100 अंक नीचे उतरा और 0.9600 पर मजबूत सहयोग/प्रतिरोध क्षेत्र पर खत्म हुआ।

 

आने वाले हफ्ते के पूर्वानुमान की बात करें, तो कई सारे बैंकों व ब्रोकर कंपनियों के विश्लेषकों के विचारों को समझने के साथ ही, तकनीकी व ग्राफिकल विश्लेषण के विभिन्न तरीकों के आधार पर किए गए पूर्वानुमानों से, हम निम्न बातें कह सकते हैं:

  • EUR/USD। पिछले हफ्ते के अपट्रेंड के धीमा होने के बाद, विशेषज्ञ भ्रमित लगते हैं: इनमें से 40% इस जोड़े के वृद्धि करने के पक्ष में हैं, 40% इसके गिरने के पक्ष में हैं और 20% घुमावदार ट्रेंड पर विचार करते हैं। संकेतकों भी अपने निष्कर्षों में एक समान बिखराव प्रदर्शित करते हुए इस पूर्वानुमान पर कोई स्पष्टता नहीं ला पाए हैं। H4 व D1 दोनों पर ग्राफिकल विश्लेषण एकमात्र फोरकास्टर जो अनारक्षित तौर पर ऊपर की ओर जाने का संकेत देता है।  1.1985, 1.2075 एवं 1.2165 पर प्रतिरोध स्तर है, जबकि 1.1915 व 1.1825 पर सहयोग स्तर है।
    डॉलर के जोड़े के ट्रेंड बुधवार, 20 सितंबर केा यूएस फेडरल रिजर्व द्वारा लिए जाने वाले दरों के फैसले व पूर्वानुमान से काफी हद तक प्रभावित हो सकते हैं;
  • GBP/USD के भविष्य की बात करें, तो ज्यादातर विशेषज्ञ (65%), ग्राफिकल विश्लेषण व 40% ऑसिलेटर के समर्थन से, 1.3500 के निचले स्तर पर इस जोड़े के सुधार की उम्मीद करते हैं। इस स्तर से गुजरने की स्थिति पर, यह अगला समर्थन 1.3440 व 1.3385 होगा।
    35% विश्लेषकों, 100% ट्रेंड संकेतकों व 60% ऑसिलेटर्स द्वारा प्रदर्शित, एक वैकल्पिक दृष्टिकोण 1.3665 तक में अपट्रेंड की निरंतरता बनाए रखने पर जोर देता है, जिसके बाद यह जोड़ा और 100 अंकों तक ऊपर जाएगा। बुल्स का अंतिम मध्यकालिक लक्ष्य 1.4000 के स्तर पर है;
  • USD/JPY । इस जोड़े के लिए पूर्वानुमान एक पार्श्विक ट्रेंड है जिसमें बियर्स को थोड़ा फायदा है — कम से कम 85% विश्लेषकों ने इस परिदृश्य का पक्ष लिया है। सहयोग स्तर 109.55 व 108.85 पर है; प्रतिरोध के स्तर 111.000 व 111.30 पर है।
    बेहद कम विशेषज्ञों (केवल 15%) और ज्यादातर संकेतकों (लगभग 90%) ने बुल्स का पक्ष लिया है। ये मानते हैं कि यह जोड़ा मध्यकालिक साइड चैनल की सीमा पर वापस आ गया है। इस स्थिति में, इस जोड़े का अल्पकालिक लक्ष्य खुद को 111.00—112.20 के केन्द्र जोन में सुरक्षित करना है, जबकि मध्यकालिक लक्ष्य है 114.50 चैनल की ऊपरी सीमा पर पहुंचना।
    और बिल्कुल, हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि गुरुवार 21 सितंबर को बैंक ऑफ जापान की प्रेस वार्ता होनी है, जिसमें एक दर निर्धारित की उम्मीद है;

  • USD/CHF के लिए पिछले हफ्ते का पूर्वानुमान 'नीचे और केवल नीचे' ही था। यही पूर्वानुमान इस सप्ताह के लिए भी है। 75% विश्लेषक और एच4 पर इतने ही संकेतक ने इस परिदृश्य का पक्ष लिया है, जिसमें यह जोड़ा फिर से 0.9415 के सहयोग की ओर जाएगा।
    जबकि 10% विशेषज्ञों व D1 पर संकेतकों ने पार्श्विक ट्रेंड का पक्ष लिया है।
    एच4 पर 15% विश्लेषकों व ग्राफिकल विश्लेषण ने इस जोड़े के वृद्धि करने का समर्थन किया है। उनके मत में, इस जोड़े को सबसे पहले 0.9765 पर, और फिर 0.9845 तक जाना चाहिए।

 

रोमन बुटको, NORDFX


« व्यापार के मूल तत्वों को सीखना
प्रशिक्षण
प्राप्त करना
बाजार में नए हैं? प्रयोग करें “शुरूआत करना” खंड
प्रशिक्षण शुरू करें
हमारे साथ चलें (सोशल नेटवर्क में)