सितम्बर 24, 2017

सबसे पहले, पिछले हफ्ते के पूर्वानुमान की समीक्षा:

  • EUR/USD याद कीजिए कि पिछले हफ्ते का पूर्वानुमान देते हुए विशेषज्ञ पूरी तरह विभाजित लग रहे थे: उनमें से 40% ने इस जोड़े की वृद्धि का पक्ष लिया था, 40% ने इसके गिरने का और 20% ने चक्करदार ट्रेंड का पक्ष लिया था। संकेतों ने भी अपनी रीडिंग्स में समान विभाजन दिखाते हुए इस स्थिति को स्पष्ट नहीं किया था। ग्राफिकल विश्लेषण ने ही अकेले साफ तौर पर इसके ऊपर जाने का संकेत दिया था, जिसमें यह जोड़ा निश्चित तौर पर गया भी, बुधवार 20 सितंबर को यह 1.2033 तक पहुंचा।
    इस दिन की मुख्य घटना यूएस फेडरल रिजर्व की एक असामान्य मीटिंग थी, जिसने 2017 में ब्याज दर की एक और वृद्धि के औचित्य को सुनिश्चित किया, जिसके बाद 2018 में तीन और वृद्धियां की जाएंगी। इसके अलावा, अंतत:, फेड ने अपने बैलेंस को घटाने की शुरुआत करने का निर्णय लिया। इन सबकी वजह से डॉलर में तेजी से वृद्धि हुई, और EUR/USD अचानक ही 170 अंकों तक गिर गया, व 1.1860 में आकर रुका। इसके बाद, बुल्स ने पूरे जोश के साथ घाटे को कवर किया, और इस जोड़े का हफ्ता प्रायोगिक रूप से वहीं खत्म हुआ जहां से यह शुरू हुआ था: 1.1950 के पास, जहां इसने विशेषज्ञों के तीनों समूहों के आनुमानित परिदृश्य को सही साबित किया;
  • GBP/USD के भविष्य की बात करें, तो ग्राफिकल विश्लेषण और 40% ऑसिलेटर्स के समर्थन से, सबसे ज्यादा विशेषज्ञों (65%) ने इस जोड़े के 1.3500 के स्तर तक उतरने का अनुमान लगाया था। 1.3665 को मुख्य प्रतिरोध बताया गया था। इस अनुमान को 100% पूरा हुआ माना जा सकता है, क्योंकि एक मानक पलटाव के लिए समायोजित होते हुए, यह जोड़ा इस चैनल में बना रहा।
    इस हफ्ते के आरंभ में, यह 1.3463 तक गिरा। फिर, यूके रिटेल सेल्स के आंकड़े के समर्थन पर, यह बढ़ना शुरू हुआ। फिर इसने फेड की मीटिंग में प्रतिक्रिया दिखाई, और अंतत: 1.3500 में वापस आ गया;
  • स्वाभाविक रूप से, USD/JPY भी यूएस से मिली खबरों को नजरअंदाज नहीं कर सकती थी। इस हफ्ते के फर्स्ट हाफ में, इस जोड़े के पूर्वानुमान एक घूम—घुमावदार ट्रेंड था, जिसका पक्ष 85% विश्लेषकों ने लिया था, जो 1 पॉइंट की शुद्धता के साथ सही साबित हुआ: 111.09 पर यह हफ्ता शुरू करने के बाद, इसने बुधवार 20 सितंबर को उसी स्थिति में फेड के भाषण का सामना किया। इसके बाद, येन ने गिरना शुरू किया और मध्य—कालिक साइड चैनल के केन्द्रीय क्षेत्र में पांच दिन की अवधि को पूरा किया, जहां यह छ: महीने से ज्यादा समय से मूव करता रहा है, 112.00 पर;
  • USD/CHF । केवल 15% विश्लेषकों और एच4 पर ग्राफिकल विश्लेषण ने बुल्स का पक्ष लिया, यह विचार करते हुए कि इस जोड़े को 0.9765 के स्तर तक वृद्धि करनी चाहिए। लेकिन इन कुछ आवाजों को अप्रत्याशित रूप से फेड के हॉक्स से सक्रिय समर्थन मिला, जिसकी वजह से यह जोड़ा उस लक्ष्य तक लगभग पहुंच ही गया, 0.9746 की ऊंचाई तक बढ़ा। कार्य दिवस के अंत की बात करें, तो इसने 0.9700 के स्तर में मजबूत समर्थन/प्रतिरोध क्षेत्र बना लिया।

 

आने वाले हफ्ते के लिए इस पूर्वानुमान की बात करें, तो यह लिखे जाते समय तक जर्मनी के फेडरल चुनावों के परिणाम अभी तक पता नहीं चले हैं।

इन चुनावों का असर कई मौद्रिक जोड़ों के मूवमेंट पर पड़ सकता है, जिसकी व्याख्या करने की जरूरत नहीं है। इतने में, कई बैंकों व ब्रोकरेज के विश्लेषकों के विचारों की व्याख्या करते हुए, साथ ही साथ, तकनीकी व ग्राफिकल विश्लेषण के विभिन्न तरीकों के आधार पर किए गए पूर्वानुमानों से, हम निम्न बातें कह सकते हैं:

  • EUR/USD । 2017—18 में ब्याज दरों में चार बार वृद्धि के फेड के निर्णय की वजह से, ज्यादातर विशेषज्ञों (60%) ने बियर्स का पक्ष लिया है, डॉलर के आरंभ में वृद्धि करने और फिर गिरने की उम्मीद की है। हालांकि, विश्लेषकों द्वारा इंगित अस्थिरता कीरेंज 1.1800—1.2100 की सीमाओं के अंदर है, जो हमें अगस्त के अंतिम हफ्ते में शुरू हुए पार्श्विक ट्रेंड के जारी रहने के बारे में कहने की अनुमति देता है।
    ग्राफिकल विश्लेषण की बात करें, तो अगले दो या तीन हफ्तों में यह इस जोड़े के 1.1650 तक गिरने का अनुमान लगाता है। लेकिन ऐसा तभी कहा जा सकता है यदि जर्मनी के चुनाव बाजार के लिए अप्रत्याशित सरप्राइज नहीं लेकर आएं;

  • GBP/USD के भविष्य की बात करें, तो यह स्पष्ट है कि डी1 में ज्यादातर संकेतक इसके ऊपर चढ़ने की उम्मीद कर रहे हैं। एच4 में उनके सहकर्मियों की बात करें, तो वेक्टर हॉरिजॉन्टली आगे बढ़ने का संकेत देता है। ग्राफिकल विश्लेषण 1.3460—1.3660 के रेंज में भी पार्श्विक ट्रेंड के जारी रहने की उम्मीद करते हैं। अगले हफ्ते के लिए विशेषज्ञों का मत निम्न प्रकार से है: 35% बुल्स के पक्ष में है, 45% बियर्स के पक्ष में है, और 20% निष्पक्ष पूर्वानुमान देते हैं। अगर हम मध्यकालिक विश्लेषण पर जाते हैं, तो अब हम देखते हैं कि 80% विशेषज्ञों ने डॉलर के वृद्धि करने और पौंड के गिरने का पक्ष लिया है। 1.3460, 1.3160 और 1.2850 समर्थन स्तर हैं। 1.3660, 1.3835 और 1.4000 प्रतिरोध स्तर हैं।
  • USD/JPY । डी1 पर एक—तिहाई ऑसिलेटर्स के समर्थन से 85% विश्लेषक इस जोड़े के 110.70 तक गिरने की उम्मीद करते हैं, जिसके बाद अपट्रेंड जारी हो सकता है। 112.65, 113.50 और 114.50 लक्ष्य हैं। 111.10, 110.70, 109.85 और 109.40 के स्तरों पर समर्थन है;
  • 80% संकेतक और डी1 पर ग्राफिकल विश्लेषण USD/CHF के 0.9770 तक वृद्धि करने का अनुमान लगाते हैं और, इसके पार कर जाने की स्थिति में, 50 अंक ऊपर 0.9820 के स्तर तक जाने का। अंतिम लक्ष्य 0.9900 की ऊंचाई पर है। हालांकि, केवल 20% विशेषज्ञ ही इस दृष्टिकोण से सहमत हैं। बाकी 80% विशेषज्ञ, बल्कि इस जोड़े के गिरने की और 0.9585—0.9770 की रेंज में इसके मूव करने की उम्मीद करते हैं। इस दृष्टिकोण का समर्थन 25% ऑसिलेटर्स ने किया है जो बताते हैं कि इस जोड़े को बहुत ज्यादा खरीद लिया गया है। अगर यह जोड़ा इस चैनल की निचली सीमा को पार कर जाता है, तो अगला समर्थन 0.9525 होगा।

 

रोमन बुटको, NORDFX


« व्यापार के मूल तत्वों को सीखना
प्रशिक्षण
प्राप्त करना
बाजार में नए हैं? प्रयोग करें “शुरूआत करना” खंड
प्रशिक्षण शुरू करें
हमारे साथ चलें (सोशल नेटवर्क में)